बंद करे

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग की खण्डपीठ नई दिल्ली के द्वारा जनपद में एक दिवसीय शिविर/कैम्प बैंच का आयोजन किया गया

प्रकाशित तिथि : 16/12/2019
IMG_6337v

रूद्रपुर 14 दिसम्बर- राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग की खण्डपीठ नई दिल्ली के द्वारा जनपद में बाल अधिकारों के उल्लंघन से सम्बन्धित प्रकरणों के निराकरण हेतु आयोग के सदस्य डाॅ0 आर.जी. आनन्द की अध्यक्षता में ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम कलेक्ट्रेट सभागार में एक दिवसीय शिविर/कैम्प बैंच का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी ने आयोग के सदस्य को पुष्प गुच्छ दे कर सम्मानित किया। शिविर में 400 समस्याओं के आवेदन प्राप्त हुए। मा0 आयोग के सदस्य डा0 आर.जी.आनन्द ने कहा कि आयोग का मुख्य उद्देश्य सभी बच्चों को बाल अधिकार संरक्षरण आयोग अघिनियम 2005 एवं संविधान में निहित तथा अन्य अधिनियमों के तहत बालकों को प्रदत्त अधिकार प्राप्त करने हेतु उन्हें सक्षम बनाना है। उन्होने कहा कि मा0 प्रधानमंत्री व मा0 महिला बाल कल्याण मंत्रालय के निर्देशों के क्रम में जो  कैम्प/बैंच आयोजन किया जा रहा है वह 49 बैंच है उन्होने कहा कि उत्राखण्ड का प्रथम बैंच का आयोजन हरिद्वार जनपद में किया गया आज इसी क्रम में द्वितीय बैंच उधमसिंह नगर जनपद में किया जा रहा है उन्होने कहा कि बैंच का जो मुख्य उद्देश्य है कि जो मामले बैंच के सामने आते है उनका त्वरित गति से बैंच के समक्ष ही समस्याओं का निवारण किया जाय। उन्होने कहा कि आयोग की मंशा है कि जरूरत मदों को अधिक से अधिक सहायता मिल सके उन्होने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा हमें अच्छा सहयोग मिल रहा है उन्होने कहा कि आयोग द्वारा कोशिश यह की जा रही है कि बैंच को और आगे बढ़ाया जाय। व समस्याओं का निवारण प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा। उन्होने कहा कि बैंच का आयोजन पूरे देश में किया जा रहा है। आयोग की मंशा है कि दुरस्त क्षेत्रों मे भी बैंच का आयोजन किया जाए ताकि कोई भी असहाय व्यक्ति भारत सरकार द्वारा संचालित बाल संरक्षण योजनाओं से वंचित न रहे।
शिविर में चम्पा बिष्ट कीरतपुर दानपुर रूद्रपुर बच्चा एक हाथ से विकलांग है व विकलांग का वजीफा चाहने की समस्या पर मा0 सदस्य द्वारा शीघ्र ही विकलांग प्रमाण पत्र व कृत्रिम हाथ लगाने की बात कही उन्होने कहा कि आयोग को इसके लिए बाहर भी जाना पडेगा तो आयोग बच्चे की पूरी मदद करेगा, श्री चेतराम आजाद नगर वार्ड न0-4 ट्रांजिट कैम्प रूद्रपुर सुन व बोल नही सकता व शिक्षा सम्बन्धित बात मा0 सदस्य के सम्मुख रखी उन्होने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को बच्चे की मेडिकल जांच करने के उपरान्त कान की मशीन उपलब्ध करायी व शिक्षा अधिकारी को बच्चे की शिक्षा के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये रेहाना जगतपुरा वार्ड न0-1 रूद्रपुर आर्थिक स्थिति अच्छी नही है इलाज हेतु सहायता, मा0 सदस्य द्वारा इलाज के समाधान हेतु मुख्य चिकित्सा अधिकारी को आवश्यक निर्देश दिये, मोहन लाल रम्पुरा वार्ड न0-21 घनश्याम डिपो के पास बच्चों के इलाज एवं पंेशन से सम्बन्धित समस्या पर मा0 सदस्य ने सम्बन्धित विभाग को बैंच के सामने ही समस्या निस्तारण करने के निर्देश दिये, कहा कि आयोग बच्चे की पूरी मदद करेगा।सुनीता महराया रोड निकट शिव मन्दिर रोड लालपुर रूद्रपुर चोट व कमजोरी के

कारण सुनने व बोलने में दिक्कत, मा0 सदस्य द्वारा बैंच में ही निस्तारण करने के आदेश सम्बन्धित अधिकारी को दिये, सुरेश विश्वास द्वारा शहर में कम उम्र के बच्चों से काम कराये जाने और मेडिकल में नशीली दवायें बिक्री व ढाबे में ड्रग की पुड़िया बच्चों को दिये जाने की जानकारी दी मा0 सदस्य द्वारा शीघ्र ही एन्टी कन्ट्रोल के अधिकारी को घटनास्थल पर भेजने के निर्देश दिये, मो0 दीक्षान्त द्वारा अस्पताल में बुरा व्यवहार करने की जानकारी पर उन्होने मुख्य चिकित्सा अधिकरी को हेल्प डेस्क बनाने के निर्देश दिये। शिविर में जिला चिकित्सालय द्वारा मौके पर ही 45 बच्चों को जो विभिन्न रोगों से पीड़ित थे उन बच्चों का स्वास्थ्य प्रशिक्षण कर आवश्यक उपकरण दिये। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग की टीम द्वारा जनपद के विभिन्न तहसीलों में जाकर बाल समस्याओं को सुना व देखा व उनके निवारण हेतु आवश्यक कदम उठाने की बात कही।
जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल ने राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग द्वारा जनपद में बच्चों की समस्याओं को लेकर लगाये गये शिविर/बैंच की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह एक सराहनीय कार्य है उन्होने कहा कि आयोग की टीम द्वारा जनपद के विभिन्न स्थानों में जाकर लोगों को जो जागरूक किया वह एक काबिले तारीफ है उन्होने कहा कि इस शिविर बैंच में त्वरित गति से समस्याओं का निराकरण होगा व अधिक से अधिक बच्चे लाभान्वित हो पायेगें उन्होने कहा कि जिन समस्याओं का निवारण जिला स्तर पर नही हो पायेगा उन समस्याओं का निवारण मा0 अयोग के सदस्य द्वारा निवारण करने का आस्वासन दिया गया है। उन्होने कहा कि दिव्यांग बच्चों व मानसिक रोगों से पीड़ित बच्चों की जांच हेतु हल्द्वानी मेडिकल काॅलेज की स्पेशल टीम द्वारा आज शिविर/बैंच  में बच्चों का स्वास्थ्य परिक्षण किया जा रहा है। अन्त में मा0 सदस्य आर.जी. आनन्द ने जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक ली ।
बैठक में जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बरिन्दरजीत सिंह, मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित, अपर जिलाधिकारी जगदीश चन्द्र काण्डपाल, अपर जिलाधिकारी उत्तम सिंह चैहान, नगर आयुक्त जय भारत सिंह, उपजिलाधिकारी मुक्ता मिश्र, मुख्य चिकित्सा अधिकारी शैलजा भट्ट, मुख्य शिक्षाअधिकारी आर0सी0 आर्या, अपर पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र सिंह पिंचा, आयोग के सदस्य संदीप राठी, दीप्ति यादव, करिश्मा बूरागोहाई, एवं संदीप चैधरी, किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य विनोद कुमार दीक्षित, विमलेश रानी नागरा, बाल कल्याण समिति सदस्य मेदिनी रस्तोगी, जिला बाल संरक्षण अधिकारी अजय सिंह जोशी, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार प्रभारी जिला समाज कल्याण अधिकारी मोहन सिंह नगन्याल, लेबर कमिशनर प्रशान्त, जिला पूर्ति अधिकारी श्यामा आर्या अल्पसंख्यक अधिकारी यशवन्त सिंह सहित अन्य विभाग के अधिकारी एवं एनजियो के सदस्य शिविर में उपस्थित थे।

– – – –
अपर जिला सूचना अधिकारी
उधमसिंह नगर।

फ़ोन –05944-250890