Close

Hon’ble Chief Minister Shri Trivendra Singh Rawat reviewed the works being done in districts for prevention and better treatment of Corona virus infection Covid-19 with District Collectors, Chief Medical Officers and concerned officials through video conferencing

Publish Date : 21/12/2020
aefvasev

18 दिसंबर, 2020 (सू.वि.) मा0 मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने विडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से जिलाधिकारियों, मुख्य चिकित्सा अधिकारियों व संबंधित अधिकारियों के साथ कोरोना वायरस संक्रमण कोविड-19 के रोकथाम एवं बेहतर उपचार हेतु जनपदों में किये जा रहें कार्यो की समीक्षा की। उन्होने कहा कि जिलाधिकारी एवं उनकी टीम द्वारा कोरोना संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए बेहतर ढंग से कार्य किया जा रहा हैं, तथा आगे और बेहतर ढंग से कार्य करने की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि कोरोना संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं है तथा वर्तमान समय में कोरोना संक्रमण के मामले निरंतर सामने आ रहें हैं जिसके रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए सभी अधिकारियों को और अधिक गंभीरता एवं सतर्कता से कार्य करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए सभी से अनिवार्य रूप से मास्क का प्रयोग करने तथा सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि इसमें किसी प्रकार की कोई ढिलाई न बरती जाय। उन्होंने कोविड संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए जनजागरूकता कार्यक्रम और अधिक बढ़ाने को कहा तथा इसमें जन प्रतिनिधियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं का भी सहयोग लिया जाय। उन्होने कहा कि हाईरिस्क क्षेत्रों से आने वाले व्यक्तियों पर कडी निगरानी रखते हुए उनकी आशा वर्करों के माध्यम से कांटै्रक्ट टे्रसिंग करते हुए शत-प्रतिशत सैपलिंग सुनिश्चित करायी जाय। उन्होने कहा कि हाईरिस्क से आने वाले व्यक्तियों का अनिवार्य रूप से आरटीपीसीआर टेस्ट किये जाय, इसमें किसी भी प्रकार की कोई शिथिलता न बरती जाय। उन्होंने होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों पर विशेष निगरानी करते हुए निरंतर उनकी मॉनिटरिंग करने के निर्देश दियें। उन्होने कहा कि जो लोग हाइपरटेंशन एवं डायबीटिज रोग से ग्रसित हैं ऐसे लोगो पर विशेष निगरानी रखते हुए उन्हें उचित चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करायी जाय। उन्होने कहा कि कोविड-19 के कारण मृत्यु दर में भी बढोत्तरी हुई हैं इसके नियंत्रण के लिए और अधिक गंभीरता से कार्य करने की आवश्यकता हैं तथा जिन चिकित्सालयों में अधिक मृत्यु हुई हैं, उनका ऑडिट करते हुए मृत्यु के कारणों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। उन्होने कहा कि आगामी माह में कोविड-19 की वैक्सीन आने की संभावना हैं इसके लिए सभी जिलाधिकारी अपने-अपने जनपदों में वैक्सीनेशन के लिए पूरी तैयारियां भारत सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुरूप सुनिश्चित कर ले, इसके लिए उन्होने सभी चिकित्सालयों के आस-पास ही व्यवस्था कराने को कहा।

जिलाधिकारी श्रीमती रंजना राजगुरु ने मा0 मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि ब्लू क्लीनिक में शत प्रतिशत टेस्टिंग हो रही है। इंडस्ट्रीज में लगातार टेस्टिंग की जा रही हैं। उन्होंने बताया कि जनपद की सीमाओ पर एवं घनी आबादी वाले क्षेत्र में विशेष फोकस किया जा रहा है। प्राइवेट लैब एवं चिकित्सालय की लैब में पॉजिटिव केस की डाटा एंट्री निर्धारित समय में पूर्ण की जा रही है, एवं नेगेटिव केस की डाटा एंट्री नहीं की जा रही थी, जिसका संज्ञान लेते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को डाटा एंट्री करने के लिए कड़े निर्देश दिए गए हैं। जिसका समय समय पर मुख्य विकास अधिकारी व स्वंय मेरे द्वारा मोनिटरिंग की जा रही हैं। उन्होंने बताया कि वर्तमान में हाईरिस्क जोन से आने वाले लोगों की शत प्रतिशत सैम्पलिंग की जा रही है। जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना के वेक्सिनेशन की तैयारी जनपद स्तर पर पूर्ण कर ली गई हैं। उन्होंने बताया कि विगत सप्ताह में ट्रू-नेट के माध्यम से 112 प्रतिशत टेस्टिंग की गई है। उन्होंने बताया कि लैब में टेस्टिंग के लिए मशीन को उसकी पूरी क्षमता के अनुसार इस्तेमाल करने के कड़े निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिए गए हैं, ताकि टेस्टिंग को औऱ बढ़ाई जा सके। उन्होंने बताया कि चिकित्सालय में बिजली पानी सिविल वर्क आदि कार्य पूर्ण कर लिए गए हैं।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी हिमांशु खुराना, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डी एस पंचपाल, अपर पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार, एसीएमओ डॉ अविनाश खन्ना, डॉ हरेन्द्र मलिक, बंशीधर तिवारी, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी उमा शंकर नेगी उपस्थित थे।

Distt Information Office
114- Collectrete, Rudrapur
US Nagar
Phone- 05944-250890, e-mail- diousnagar2013@gmail.com