Recent UpdatesStop

read more

जन संवाद सेवा

Photo Gallery

WEB RATNA DISTRICT AWARD

view photo gallery

Hit Counter 0003802505 Since: 01-02-2011

Uttarakhand Goverment Portal, India (External Website that opens in a new window) http://india.gov.in, the National Portal of India (External Website that opens in a new window)

News & Events

Print

वीर चन्द्र सिंह गढवाली पर्यटन स्वराजेगार योजना की बैठक कलक्टेªट सभाकक्ष में आहूत हुई।

Publish Date: 29-11-2017

 

रूद्रपुर 29 नवम्बर-वीर चन्द्र सिंह गढवाली पर्यटन स्वराजेगार योजना की बैठक कलक्टेªट सभाकक्ष में आहूत हुई। जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल ने योजना के अन्तर्गत स्वरोजगार हेतु प्राप्त आवेदनों पत्रों का परीक्षण किया तथा आवेदनकर्ताओं का साक्षात्कार भी लिया। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देष दिये कि गैर वाहन व वाहन मद में प्राप्त आवेदनों का भलीभांति परीक्षण कर लिया जाय तथा जिन लाभाथिर्यों को स्वरोजगार हेतु योजना अन्तर्गत धनराषि स्वीकृति की जाय वह उसी योजना में व्यय भी हो ताकि लाभार्थी अपना स्वरोजगार आसानी से संचालित कर सकें। उन्होंने कहा कि लाभार्थी चयन में मानक का ध्यान रखा जाय। 
    सीडीओ अलोक कुमार पाण्डेय ने जिला पर्यटन अधिकारी बी0सी0 त्रिवेदी से कहा कि योजना का व्यापक प्रचार किया जाय । उन्होंने कहा कि षिक्ष्ति बेरोजगार व्यक्तियों के लिये वीर चन्द्र सिंह गढवाली पर्यटन योजना स्वरोजगार के क्षेत्र में कारगर योजना है जिससे अधिक से अधिक लोग योजना से लाभान्वित हो सकते है। उन्होंने बताया कि इस योजना के विस्तारीकरण के लिये सरकार प्रयासरत है। सीडीओ ने बताया कि गैर वाहन मद में 14 आवेदकों के आवेदन प्राप्त हुये जिनका परीक्षण के उपरान्त  07 आवेदन स्वीकृत किये गये,जबकि वाहन मद में 12 आवेदन प्राप्त हुये परीक्षण के उपरान्त 07 आवेदन स्वीकृत किये गये। 
जिला पर्यटन अधिकारी बी0सी0 त्रिवेदी ने बताया कि ंवीर चन्द्र सिंह गढवाली पर्यटन स्वरोजगार योजना एक महत्वाकांक्षी योजना है जिसके अन्तर्गत लाभार्थी रेस्टोरेंट स्थापित करने अथवा वाहन क्रय कर अपनी आजीविका चला सकते है। उन्होंने बताया कि योजना के अन्तर्गत अधिकतम ्40 लाख तक का ऋण 25 प्रतिषत अनुदान पर दिया जाता है। 
    बैठक में एआरटीओ नन्दकिषोर,एलडीएम मधुसुदन सुमन,डीडीएम नावार्ड विषाल षर्मा,जीएम उद्योग जीएस बोहरा व मैनजर सुनील कुमार पंत आदि अधिकारी उपस्थित थें।