Recent UpdatesStop

read more

जन संवाद सेवा

Photo Gallery

WEB RATNA DISTRICT AWARD

view photo gallery

Hit Counter 0003193151 Since: 01-02-2011

Uttarakhand Goverment Portal, India (External Website that opens in a new window) http://india.gov.in, the National Portal of India (External Website that opens in a new window)

News & Events

Print

एनएच-87(नैनीताल हाईवे) एवं एनएच-74 के चैडीकरण कार्याें की समीक्षा

Publish Date: 09-05-2017

NH-SAMEEKSHA-08-MAY-2017
रुद्रपुर 08 मई - जिलाधिकारी डाॅ0 नीरज खैरवाल द्वारा आज एनएचएआई, कार्यदायी संस्थाओं, वन विभाग एवं अन्य सम्बधित विभागों के अधिकारियों के साथ कलक्ट्रेट सभागार में एनएच-87(नैनीताल हाईवे) एवं एनएच-74 के चैडीकरण कार्याें की समीक्षा की गई।  जनपद में एनएच-87(नैनीताल हाईवे) के चैडीकरण कार्याें की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिये कि एनएच-87 की जद में आने वाली वन भूमि पर एनएचएआई द्वारा चिहिन्त किये गये 14469 वृक्षों का कटान कार्य षीघ्र प्रारम्भ कर दिया जाय। उन्होंने निर्देष दिये कि एसडीएम रुद्रपुर व किच्छा, वन विभाग, वन निगम, एनएचएआई, विद्युत विभाग एवं जल संस्थान ंके अधिकारी संयुक्त रुप से दो दिनों के भीतर वन क्षेत्र का निरीक्षण कर चिहिन्त हुए वृक्षों के कटान की योजना बनाकर षीघ्र ही वृक्षों का कटान प्रारम्भ कर दें ताकि जनपद में एनएच-87 पर षीघ्र ही कार्य षुरु किया जा सके। एनएचएआई के परियोजना निदेषक अजय विष्नोई द्वारा बताया गया कि चिह्नित किये गये कुल 14469 वृक्षों में से 3558 वृक्षों का रुपये 01 करोड 75 लाख का भुगतान एनएचएआई द्वारा वन विभाग को कर दिया गया है। इस पर जिलाधिकारी ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिये कि वन विभाग षेश 10911 वृक्षों के भुगतान की डिमाण्ड बनाकर 15 मई तक एनएचएआई को उपलब्ध करा दें ताकि एनएचआई द्वारा षीघ्र ही भुगतान किया जा सके। जिलाधिकारी ने निर्देष दिये कि वृक्ष कटान कार्य में हीला हवाली न बरती जाय। जिलाधिकारी ने परियोजना निदेषक एनएचएआई को निर्देष दिये कि एनएच-87 की जद में आने वाली सरकारी भूमि के हैण्डओवर की प्रक्रिया षीघ्र ही पूर्ण कर ली जायेगी, इसलिए जनपद में प्रोजेक्ट पर कार्य आरम्भ की योजना बना ली जाय। साथ उन्होंने ईई विद्युत विनोद कुमार को निर्देंष दिये कि एनएच-87 की जद में आने वाली भूमि के अन्तर्गत विद्युत विभाग की जिन योजनाओं पर कार्य चल रहा है उन योजनाओं पर रोक लगाये जाने हेतु विभाग को पत्र प्रेशित कर अवगत कराया जाय कि एनएच चैडीकरण से पूर्व इन कार्याें के किये जाने पर राजस्व की हानि होगी एसलिए इन कार्यों को एनएच चैडीकरण के साथ ही किया जाना उचित है। बता दें कि एनएच-87(नैनीताल हाईवे) के चैडीकरण में जनपद की कुल 30.3728 हेकटेयर भूमि एनएच-87 की जद में आ रही है जिसमें से 0.2796 हेक्टेयर भूमि प्राईवेट भूमि है जबकि 30.0932 हेकटेयर भूमि सरकारी भूमि षामिल है। 
   वहीं एनएच- 74 के चैडीकरण कार्याें की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने एसडीएम रुप्रपुर व एनएचएआई व कार्यदायी संस्थाओं केे अधिकारियों को निर्देष दिये कि गाबा चैक से दूधिया मन्दिर तक एनएच-74 की जद मे आने वाले निर्मित भवनों का ध्वस्तीकरण षीघ्र कर लिया जाय। उन्होंने कहा कि सरकारी भवनों के ध्वस्तीकरण कार्य को प्राथमिकता के साथ सम्पादित किया जाय। उन्होनंे पीडी एनएचएआई को निर्देष दिये कि गाबा चैक पर नाले का निर्माण 03 मीटर की चैडाई में किये जाने हेतु प्रस्ताव बनाया जाय ताकि गाबा चैक पर जल निकासी भविश्य में सुचारु बनी रहे। साथ ही उन्होंने परियोजना निदेषक एनएचएआई को यह भी निर्देष दिये कि 143 की कार्यवाही वाली भूमि को छोडकर एनएच-74 की जद में आ रही अन्य भूमियों एवं निर्मित भवनों के मुआवजा का भुगतान कर दिया जाय ताकि प्रभावितों को राहत मिल सके। उन्होनंे ईई जल संस्थान तरुण षर्मा को पाईप लाईन षिफ्टिंग कार्य को भी षीघ्र ही पूर्ण करने के निर्देष दिये। 
     बैठक में एडीएम प्रताप सिंह षाह, विषेश भूमि अध्याप्ति अधिकारी एनएस नबियाल,डीएफओ कल्याणी, जीएलएम आरडी सती, डीएलएम अरविन्द कुमार व सोहन लाल, एनएचएआई से पीडी अजय विष्नोई व उप प्रबन्धक तकनीकी अनुज कुमार, सदभाव कम्पनी से पवन धीमान, गल्फार कम्पनी से पीके चैधरी, ईई विद्युत विनोद कुमार, ईई जल सस्ंथान तरुण षर्मा आदि उपस्थित थे।   
- - -
जिला सूचना अधिकारी,
उधमसिंह नगर।

Distt Information Office
114- Collectrete, Rudrapur
US Nagar
Phone- 05944-250890, e-mail- diousnagar2013@gmail.com